इंटरनेट क्या है ? – What is Internet in Hindi

इंटरनेट और कंप्यूटर इस युग के 2 ऐसे माध्यम है जिसने पूरी दुनिया को एक परिवार के जैसे बनाकर रख दिया है जिससे हम जब चाहे तब जुड़कर बातें कर सकतें हैं और अपनी जानकारी ढूंढ सकतें हैं ।

इसके साथ साथ इंटरनेट और कंप्यूटर इस युग का ऐसा दुर्लभ आविष्कार है जिसने पूरी दुनिया के लोगों का जीवन आसान बनाकर रख दिया है ।

internet kya hai - इंटरनेट क्या है
इंटरनेट क्या है – ( What is Internet in Hindi ) – Digital Madad

क्या आप भी इस चीज को लेकर अक्सर उत्सुक रहतें हैं और सोचतें हैं कि इंटरनेट आखिर क्या है ( What is Internet in Hindi ) , इसका मालिक कौन है और इसका आविष्कार किसने किया ?

तो इस Post में हम इससे Related वो सारी चीजें जानने वाले हैं जो आपके लिए बेहद महत्वपूर्ण हो सकता है ।

इस आर्टिकल में आप जानने वाले हैं !

इंटरनेट क्या है – What is Internet in Hindi ?

इंटरनेट बहुत सारे Networks का ऐसा जाल है जो पूरे World के Computers को एक दूसरे से जोड़ता है और दुनियाभर के कंप्यूटर में नेटवर्क का आदान प्रदान करता है । इंटरनेट की खोज बॉब कहन और विन्ट सर्फ़ ने सन 1969 में किया था ।

Internet का फुल फॉर्म Inter-Networking होता है और इसे हिन्दी में “अंतरजाल” कहा जाता है जिसका मतलब  Networks का ऐसा जाल होता है जिससे बहुत सारे Computers को आपस में जोड़ा जा सके

इंटरनेट आज के समय की सबसे बड़ी जरूरत बन गयी है। आज हम लगभग बहुत तरह के कामो को करने के लिए Internet पर निर्भर हो गए है। 

जैसा कि मान लेते है आपको किसी तरह की जानकारी चाहिए तो

यदि आप उसको Books की मदद से ढूंढते है तो इसमे बहुत परेशानी होगी तथा इसके लिए सही Book को भी ढूंढना होगा, जिसमे Time भी ज्यादा Waste होगा। 

लेकिन वही जानकारी यदि आप इंटरनेट  पर ढूंढते है तो आपको तुरंत उससे Related जानकारी मिल जाएगी जिसमे आपका समय भी कम Waste होता है।

हमारे ही देश मे आज के समय मे इंटरनेट का इस्तेमाल और Data Consume करने वालो की संख्या काफी बढ़ गयी है।

वही अगर हम पिछले पाँच सालो के पहले का Data देखें तो पहले बहुत ही कम लोग Internet का उपयोग करते थे।

आज के समय मे आप  WhatsApp  की मदद से किसी अपने के साथ दूर देश में बैठे व्यक्ति से आप आसानी से Video Call पर बात कर सकते है जो कि संभव इंटरनेट की वजह से ही हो पाया है।

इंटरनेट के माध्यम से हम किसी भी तरह के Online काम को भी आसानी से अपने Computer के माध्यम से कर सकते है –

  जैसे कि मान लेते है कि आपको कोई Ticket बुक करना है तो आप इंटरनेट पर उसकी वेबसाइट के पर जाकर आप टिकट को बुक कर सकते है। 

  वही अगर आपको अपने घर का बिजली बिल या टेलीफ़ोन बिल को भरना है तो अब आप वो भी कर सकते है।

इंटरनेट असल मे कोई डिवाइस या कंप्यूटर नही है –

बल्कि World Wide Web का एक हिस्सा है और यह डेटा के रूप में मौजूद होता है जो कि Servers में Store होता है और Wires की मदद से यह पूरे वर्ल्ड से Travel होता है। 

यह एक दूसरे के साथ जुड़े रहने के लिए Standardized Communication Protocols का इस्तेमाल करते है और जब आप किसी प्रकार के Data को Search Engine के द्वारा Search करते है तो आगे Search Engine उस डेटा को Internet Protocol की मदद से Find करके आपके सामने पेश कर देता है।

आज के समय मे अगर देखा जाए तो सबसे अधिक डेटा यदि किसी Server में मौजूद है तो वो है  Google  के Server में, ऐसा इस लिए भी है क्योंकि सबसे ज्यादा उपयोग होने वाला Search Engine Google है ।

इसी कारण जब कोई Company किसी तरह का डेटा Create करती है और चाहती है कि –

उनके डेटा को लोग पढ़ने या देखने उनके Website पर आए तो ऐसे में वो Companies अपने डेटा को Google Search Engine के साथ Share करते है

और Google को Data देखने की और Google के  Server में Store करने की Permission देते है ताकि जब भी उससे Related Data को Search किया जाए तो Google उनके Website पर Visitor को भेज सके ।

Internet का हिन्दी अर्थ – Internet Meaning in Hindi

दोस्तों, अगर आप सोचते होंगे कि What is internet called in Hindi क्योंकि Internet तो एक अंग्रेजी शब्द है जिसका अंग्रेजी मतलब Inter Connected Network होता है लेकिन Internet को  हिन्दी में  “अंतरजाल” कहा जाता है जिसका मतलब नेटवर्क का ऐसा जाल होता है जो दुनियाभर के कंप्यूटर को आपस में जोड़ता है ।

वास्तव में इंटरनेट बहुत सारे नेटवर्क का जाल ही तो है जिसने पुरे विश्व को एक साथ बांधकर रखा है और पुरे दुनिया के लोगों को आपस में एक घर परिवार के जैसे जोड़कर दिया  है क्योंकि आप इसके मदद से जिससे चाहो उससे बात कर सकते हो चाहे आप दुनिया के किसी भी कोने में हो ।

भारत में इंटरनेट 1989 में ही आ गया था  है लेकिन अभी भी इंडिया के लोग Internet का इस्तेमाल बहुत ही कम मात्रा में करतें हैं और Google पर भी लोग हिन्दी में बहुत ही कम Search करतें हैं और अभी भी लोग Google पर Search करते समय अंग्रेजी शब्द का उपयोग करतें हैं ।

इंटरनेट का फुल फॉर्म

इंटरनेट का फुल फॉर्म “Inter Connected Network” होता है।

यह Network का वह विशाल जाल है जिसके साथ दुनिया के लगभग सभी प्रकार के Data Servers या यू कहे कि Data Base जुड़े है। 

इंटरनेट के जरिए हमारे Government Data Base, School और Colleges के Data Base यहाँ तक कि आपके Mobile और Computer भी जुड़े हुए है

जिनके द्वारा आप सभी प्रकार की Information को शेयर और Receive कर सकते है।

इंटरनेट कितने प्रकार के होते है ?

इंटरनेट एक Public Network है जिसका उपयोग कोई भी व्यक्ति कर सकता है लेकिन क्या आपको पता है कि इंटरनेट के कितने प्रकार है ? तो चलिए इसके बारे में जान लेते है –

1. Intranet Intranet भी इंटरनेट की तरह की एक नेटवर्क होता है जो कि Private होता है –

जिसका उपयोग Companies अपने Office के Computers को Secure तरीके से Connect करने के लिए करती है जिसको बिना User Name और Password के इस्तेमाल नही किया जा सकता है। 

इसमे भी TCP और IP Technology का उपयोग करके डेटा को Private तौर पर शेयर किया जाता है और

यह एक Computers का जाल होता है जो कि Private Network के रूप में मौजूद होता है और इसको कोई भी बाहरी व्यक्ति इस्तेमाल नही कर सकता।

Intranet का इस्तेमाल मुख्य रूप से अपने कंपनी के Computing Resources को केवल अपने Employees के साथ शेयर करना होता है। Intranet की मदद से उनके कंप्यूटर नेटवर्क Secure हो जाते है ।

2. Extranet- Public Internet से Intranet में जाने की प्रक्रिया को Extranet कहते है।

यह भी एक प्रकार का प्राइवेट नेटवर्क ही है जो कि पब्लिक इंटरनेट की मदद से एक ब्रांच को दूसरे ब्रांच से Connect होता है और डेटा को आपस मे शेयर करने की भी अनुमति देता है। 

इसको इस्तेमाल करने के लिए भी User Id और Password की जरूरत पड़ती है तथा इसकी Security पूरी तरह से Internet Firewall और Internet पर निर्भर करती है।

इंटरनेट के लाभ/उपयोगिता 

internet ke fayde

1. शिक्षा के क्षेत्र में :

अगर हम इंटरनेट का महत्व शिक्षा के क्षेत्र में देखे तो आज बहुत बढ़ गया है। आज Schools Online Classes शुरू करने लगी है और बच्चे भी Online पढ़ाई करने लगे हैं। 

ऑनलाइन पढ़ाई में सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि बच्चे कभी भी पढ़ सकते है और इसके द्वारा उनको समझ भी जल्दी आता है क्योंकि –

आज के समय मे Graphic के द्वारा किसी भी चीज़ को आसानी से समझया जा सकता है जो कि एक Normal किताब पर छापे हुए चित्र से मुमकिन नही है। 

आज के समय मे बहुत से Online Learning Platforms भी आ चुके है जहाँ Best Teachers बच्चों को पढ़ा रहे है जैसे कि –

Unacdemy, Byjuice  और Vedanta जैसे Platforms Online शिक्षा में काफी अच्छा काम कर रहे है।

2. बैंकिंग के क्षेत्र में :

आज के समय मे आप देखते होंगे कि Online Transactions को कितना महत्व दिया जा रहा है। आज सभी प्रकार की बड़ी Banking Related Transactions Online ही होती है। 

क्योंकि Online Transactions में उन पर नज़र रखना आसान होता है और यदि किसी प्रकार की गड़बड़ी हो जाए तो

उसे पकड़ना भी आसान हो जाता है। यहाँ तक कि Government  भी सभी को Online Transactions करने की ही सलाह देती है ताकि

यदि आपका पैसा कभी गलती से किसी दूसरे के पास चला जाए तो आप उसको वापिस पा सके, Government ने छोटे और Secure Transactions के लिए UPI जैसे Platform को भी Launch किया है

जहाँ आप किसी भी दुकान से सामान खरीद कर वहां UPI के द्वारा Direct अपने बैंक से Payment कर सके जिससे कि आपको हमेशा आधिक Cash लेकर Market में चलना नही पड़ेगा। UPI ID के बारे में पूरी जानकरी को पढ़ने और समझने के लिए आप यह Post पढ़ें – UPI ID क्या होता है ?

3. नौकरी के क्षेत्र में :

आज आप नौकरी को भी Online Search कर सकते है यदि आप किसी Private या सरकारी क्षेत्र में काम करना चाहते है तो

आपको उनके पास जाकर पूछने की जरूरत नही है बल्कि आप Online Job Requiting Websites की मदद से Online Job Search कर सकते है। 

यहाँ तक कि अब तो Government ने भी अपनी Area में Jobs से Relatable Websites बना दी है जहाँ

Genuine Companies एक समय अंतराल के बाद Job के लिए Seminar लगाती है जहाँ पर कोई भी व्यक्ति आ सकता है लेकिन उससे पहले आपको Regarding Website पर Apply करना पड़ता है।

4. ग्रामीण क्षेत्रो में :

ग्रामीण क्षेत्रो को भी दुनिया के साथ जोड़ने के लिए इंटरनेट का इस्तेमाल किया जा रहा है।

आज के समय मे गांव में भी लोग जागरूक हो रहे है और Online Payment माध्यमों का इस्तेमाल कर रहे है। 

यहाँ तक कि नई चीज़ों को सीखने के लिए भी Internet की मदद ले रहे है जैसे कि

सिलाई के काम को सीखने के लिए YouTube जैसे Video Streaming Platform का उपयोग कर रहे है और Ecommerce Website के द्वारा भी अपने सामान को Internet की मदद से Sell कर रहे है। 

5. सरकारी नौकरी क्षेत्र में :

अगर आप सरकारी नौकरी चाहते है तो भी आपको कही जाने की जरूरत नही है।

आप Online ही Internet की मदद से सरकारी Jobs के लिए Apply कर सकते है। 

बस आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि

Job कब और किस क्षेत्र में निकली है , उसकी जानकारी हासिल करनी होगी और आप यह जानकारी भी Internet की मदद से बड़ी ही आसानी से प्राप्त कर सकते है। 

आज के समय मे Internet के माध्यम से ही सभी Govt Jobs के Forms भरे जा रहे है इसमे सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि

कोई भी Internet की मदद से उस Job के Form को अपने घर पर ही भर सकता है और उसमें गलती की गुंजाइश भी बहुत कम रहती है। नही तो –

Offline Forms में बहुत से लोग Form को भरते वक़्त गलती कर देते है जिसके कारण

उनका फॉर्म Reject कर दिया जाता है और  बाद में वो लोग परेशान हो जाते है लेकिन Online Platforms पर आपको पहले ही बता दिया जाता है कि अपने क्या गलत किया है जो कि बहुत अच्छी बात है।

6. Tour और Travelling के क्षेत्र में :

अगर आप Tour और Travelling के क्षेत्र में भी देखे तो, आज सभी लोग Online ही बुकिंग करना पसंद करते है क्योंकि

किसी भी व्यक्ति को Counter पर जाकर लाइन में खड़ा होना पसन्द नही है।

वही Online Platform की मदद से आप Buses, Book कर सकते है, Train की Ticket Book कर सकते है और तो और

आप Flight Tickets भी Online Internet के माध्यम से घर बैठे Book कर सकते है।

Internet से Booking करने में आपको पैसे की भी बचत होती है क्योंकि कई बार वहां आपको Discount Coupons भी मिल जाते है और

समय की भी बजत होती है। इसके साथ साथ आपको ज्यादा मेहनत भी नही करनी पड़ती है। 

आप Internet के माध्यम से किसी भी व्यक्ति की Ticket को कही भी बैठकर बुक कर सकते है लेकिन

आप यह Offline माध्यम से नही कर सकते है। Offline में आपको खुद Physically जाकर booking करवानी पड़ती है जिसमे भी आपका काफी समय बर्बाद हो जाता है।

7. बिज़नेस के क्षेत्र में :

आज के समय मे बहुत से Business Internet के माध्यम से फल फूल रहे है क्योंकि उनका अधिकतर काम Internet के द्वारा ही जल्दी और आसानी से हो जाता है। 

आज कई Business ऐसे भी है जो कि केवल Internet पर Depend है जैसे कि

Ecommerce Business या फिर किसी प्रकार की Online Service देना, या फिर Blogging जैसा Business हो गया, यहाँ तक कि अब तो Share Market भी Online Platform पर काफी हद तक Shift हो चुका है।

 यहाँ भी Traders Online Software’s और Platform की मदद से Trading कर रहे है जिससे कि उनको भी अपना काम करनेे में काफी आसानी हो गयी है। 

8. राष्ट्रीय सुरक्षा के क्षेत्र में :

Internet का इस्तेमाल केवल banking या फिर business में ही नही बल्कि राष्ट्रीय सुरक्षा में भी किया जा रहा है।

आज के समय मे सभी प्रकार की चीज़ें Internet के माध्यम से ही कंट्रोल की जाती है। 

जैसे कि अगर आप Satellite को देखे तो उनको कंट्रोल करने के लिए भी Internet की ही मदद ली जाती है।

जहाँ Wireless तरीके से Data को भेजा जाता है।

सुरक्षा में आज के समय मे Communication बहुत जरूरी है और वो भी Secrete तरीके से ताकि किसी को भी भेजे गए Message का पता न लग सके। 

इसी लिए सभी देशों ने अपने देश की सुरक्षा के लिए खुद का Internet Network बना रखा है।

ताकि कोई भी व्यक्ति उसमे आसानी से न घुस सके क्योंकि

वहां देश की Security से Related Documents को रखा जाता है और उन Web Servers की सुरक्षा भी बहुत अलग तरीके से की जाती है। जो कि Internet पर ही Depend रहता है।

9. Communication के क्षेत्र में :

Internet ने Communication को बिल्कुल ही बदल कर रख दिया है।

पहले के समय में देखा जाए तो Commutation का रास्ता केवल लैटर हुआ करता था। जो कि एक पक्ष से दूसरे पक्ष तक पहुचने में काफी समय लग जाया करता था।

और यदि कोई जरूरी खबर हो तो वह भी सही समय पर नही पहुँच पाता था लेकिन

जब से Communication Internet की मदद से होने लगे है। तब से ही किसी भी तरह की File या Voice को तुरंत आप अपने Phone या Laptop के द्वारा Internet की मदद से भेज सकते है। 

आज हम किसी भी व्यक्ति से बात करने के लिए सबसे पहले Internet की ही मदद लेते है।

जैसे कि WhatsApp या फिर Email, Video Call या फिर Voice Call, के द्वारा। यह केवल Internet के कारण ही संभव हो पाया है।

इंटरनेट की हानि

Internet ke Nuksan - Disadvantages of Internet

इंटरनेट के अगर कुछ फायदे है तो इसके नुकसान भी बहुत है तो चलिए इसके कुछ नुकसान के बारे में जान लेते है –

1.  इंटरनेट के द्वारा बहुत से बच्चे गलत चीज़ों को जाने अनजाने में कर बैठते है जैसे कि

कई बार वो लोग गलत वेबसाइट पर पहुँच कर ऐसी Information शेयर कर देते है जिससे कि उनको Financial नुकसान भी उठाना पर सकता है।

2.  इंटरनेट के द्वारा अश्लीलता को भी बड़ी ही आसानी से फैलाया जा सकता है। जिससे कि लोगो को बहुत नुकसान भी होता है और खाश कर यदि ये चीज़े छोटे बच्चों के नज़र में आ जाए तो इससे उनके मानसिकता पर भी काफी गलत प्रभाव पड़ता है।

3.  इंटरनेट की मदद से Negativity बहुत तेज़ी से और कम समय मे फैलाई जा सकती है और

आज के समय मे ऐसा हो भी रहा है जिसके कारण सरकार ने इसको रोकने के लिए कई कड़े कदम भी उठाए है। ताकि लोगो को Negativity और Negativity फैलाने वाले लोगो से बचाया जा सके। 

4.  इंटरनेट के द्वारा लोगो से ठगी भी आसानी से किया जाने लगा है जिसके शिकार आज के समय मे बहुत से लोग हो भी रहे है।

जैसे कि उनको झूठे विज्ञापन दिखा कर उनसे पैसा ले लिया जाता है और बाद में उनको कुछ भी उसके बदले नही दिया जाता है।

5.  इंटरनेट के द्वारा लोगो की जानकारी को भी चुराया जाता है। जैसे के आज के समय मे Google और Facebook जैसे Companies अपने Users का डेटा लेकर उसका इस्तेमाल खुद के फायदे के लिए करती है।

6.  इंटरनेट के जरिए Illegal Activities को भी आसानी से किया जाता है।

7.  इंटरनेट के जरिए कुछ लोग हैकिंग जैसे कामों को भी अंजाम देते है। जैसे कि अभी पिछले ही साल एक कंप्यूटर वायरस ने सभी को बहुत परेशान किया हुआ था। 

और उस Virus ने बहुत से Database को नष्ट भी कर दिया था तथा जिन लोगो ने Hackers को उनके द्वारा मांगे गए पैसे दे दिए थे तो 

उनके डेटा को ही हैकर्स ने फिर से Decrypt किया था। तथा कुछ का तो पैसा भी गया और उनका डेटा भी, इसी लिए आपको इंटरनेट पर हमेशा बहुत सावधान रहना चाहिए।

8. Cyber Bulling जैसा Crime भी इंटरनेट की मदद से ही किया जाता है जिसकी वजह से कुछ लोग Depression में आ जाते है और मर भी जाते है।

इंटरनेट की विशेषताएँ

1.  यह एक ऐसी प्रणाली या यूं कहें कि टेक्नोलॉजी है जो कि पूरी दुनिया के Computers और Mobiles को एक दूसरे से जोड़ती है।

2.  इंटरनेट World Wide Web का एक हिस्सा है जो कि HTML Document को Support करता है और Web Browser की मदद से इसको Access किया जाता है।

3.   इंटरनेट का इस्तेमाल अधिकतर Companies और लोग Email करने के लिए करते है। जिसके द्वारा World में किसी को भी Message Send या Receive किया जा सकता है। 

4.   इन्टरनेट में Telnet एक ऐसी Service होती है जिसके द्वारा हम दूसरे कंप्यूटर के Contents को Access करने की Permission देता है।

5.   इन्टरनेट में File Transfer Protocol का इस्तेमाल Files को दूसरे कंप्यूटर में Copy करने के लिए किया जाता है।

इसका इस्तेमाल Web Development Companies और IT Companies के द्वारा किया जाता है। अपने Servers के Data को Access और Copy करने के लिए।

6.   इंटरनेट Relay Chat ऐसी Service है जिसके द्वारा आप दूसरे के साथ Real Time में Communicate कर सकते है।

7.   इंटरनेट के द्वारा ही वीडियो कॉल और चैटिंग जैसी सुविधाओ का इस्तेमाल कर पा रहे है।

8.    इंटरनेट की Speed बहुत ही फ़ास्ट होती है, यह करीब 2 seconds में भारत से अमेरिका तक डेटा को कई बार लेकर जा और आ सकती है।

9.   इंटरनेट के द्वारा ही हम आज IOT जैसी टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर पाते है।

इस Technology की मदद से आप अपने घर के Lights, Computer, Hard Drive, CCTV Cameras को अपने मोबाइल के द्वारा ही इंटरनेट में मदद से कही भी दूर रह कर कंट्रोल कर सकते है।

10.   इंटरनेट के जरिए ही आज हम किसी भी प्रकार की Financial Transaction आसानी से कर पाते है।

11.  इंटरनेट के जरिए किसी पर भी नज़र रखना और उसको ढूढना आसान हो गया है। जिससे कि Illegal Activity करने वालो को आसानी से पकड़ा जा सकता है।

इंटरनेट की सेवाएं

इंटरनेट की सेवाएं प्राप्त करने के लिए आपको सबसे पहले किसी भी इंटरनेट प्रोवाइडर से इंटरनेट कनेक्शन प्राप्त करना होगा।

जिसके लिए आप किसी भी प्रोवाइडर से Contact कर सकते है।

आज भारत मे यदि आप Mobile Data Service लेना चाहते है तो आप इन मे से कोई भी Operator को चुन सकते है। 

  • Jio-  Jio के Internet Plans काफी अच्छे और सस्ते भी है और इसमे आपको jio का Subscription भी साथ मे मिलता है। Jio का सबसे Popular Data और Voice Call Plan 599₹ का है।
  • Airtel-  Airtel में भी आपको 4G Internet और 2G Internet Network का Support मिलता है और आप को इसमे भी recharge के साथ Xstrem और Live TV Free में देखने को मिलता है।
  • Bsnl-  Bsnl फिलहाल अधिकतर जगहों ओर 3G Internet सेवाएं ही प्रदान कर रहा है और इसके Plans भी काफी किफायती है।
  • Vodafone Idea- पहले Vodafone और Idea दो अलग अलग Companies हुआ करती थी लेकिन अब दोनों साथ मे मिल गयी  है। वही इनकी 4G Internet Network भी देश के लगभग सभी शहरों और गांव में मौजूद है।

अगर हम Broadband Service की बात करे तो आपको बहुत से Local BroadBand Service Providers मिल जायेंगे जो कि आपको उचित दामो पर Internet Plan Provide करवा देते है।

इंटरनेट का इतिहास – History of Internet in Hindi

  • इंटरनेट की शुरुआत सन 1969 तक पहला कदम बढ़ चुका था।  इसका पहली बार ASPANET के द्वारा बनाया गया था। और इसके द्वारा Secret Messages को एक दूसरे तक पहुँचाया जाता था।
  • शुरू में उसका इस्तेमाल करके US के पाँच Universities के Computers को आपस मे Connect किया गया | इसके बाद 1972 तक समय मे 23 NODE और इसके बाद यह दुनिया के कई देशों के साथ जुड़ चुका था।
  • शुरू के समय मे इसको Private Network के तौर पर गोपनीय जानकारी को भेजने के लिए इस्तेमाल किया जाता था।
  • लेकिन दिन प्रतिदिन इसमे सुधार होते गए और बाद में यह सभी के लिए उपलब्ध कर दिया गया। और आज के समय मे यह सबसे बड़ा Business बन चुका है।

इंटरनेट की खोज किसने की और इसका मालिक कौन है ?

What is Internet in Hindi

इंटरनेट की खोज के लिए Scientist की एक बड़ी Team की जरूरत थी और सन 1957 के Cold War के समय अमेरिका को Communication करने के लिए कोई नई टेक्नोलॉजी की जरूरत महसूस हुई |

और इसके बाद Advanced Research Project Agency की स्थापना की गई जिसके मुख्य काम एक ऐसी टेक्नोलॉजी को बनाना था जिसके जरिए Computers को आपस मे जोड़ा जा सके और Commination किया जा सके।

और इसके बाद Advanced Research Project Agency की स्थापना की गई जिसके मुख्य काम एक ऐसी टेक्नोलॉजी को बनाना था ।

जिसके जरिए Computers को आपस मे जोड़ा जा सके और Commination किया जा सके जिसके जरिए किसी भी Computer को आसानी से जोड़ा जा सकता था और 1972 के समय तक Ray Tomlinson ने पहले Email Network को लांच कर दिया।

जिसके द्वारा Emails के जरिए किसी के साथ भी Communicate किया जा सकता था।

अब यह देखतें हैं कि इंटरनेट का मालिक कौन है ?

हम आपको बता दे कि इंटरनेट कोई भी मालिक नही है और Internet के पूरी दुनिया मे मुख्य तौर पर पाँच Data Base है जहाँ पर सभी तरह का Data Store रहता है। 

और उन पाँच डेटाबेस की चाबी भी कुछ 5 या 6 लोगो के पास है ताकि यदि कभी इंटरनेट पर कुछ बड़ी गड़बड़ी हो जाए और इसको Shut Down करने की नौबत आ जाए तो बंद किया जा सके।

इंटरनेट कैसे और कब बना – यह चीज़ पैदा कैसे हुआ ?

इंटरनेट को सबसे पहले 1969 में  ASPANET  ने Computers को आपस मे जोड़कर Communicate करने वाली Technology को Introduce किया था 

और इसके बाद 1980 के समय तक  TCP और IP की खोज कर ली गयी और बाद में इन दोनों को आपस मे जोड़ने का काम शुरू किया गया। 

असल मे इसकी जरूरत  Cold war  के समय महसूस हुई ताकि जब सभी प्रकार के मौजूद साधन बंद हो जाए तो इसके जरिए अपने लोगो से संचार स्थापित किया जा सके।

भारत मे सबसे पहले इंटरनेट कब शुरू हुआ ?

भारत मे इंटरनेट सबसे पहले 14 अगस्त 1995 में लांच किया गया और इसका पहला इस्तेमाल 15 अगस्त 1995 में किया गया था।

उस वक़्त विदेश संचार निगम लिमिटेड (VSNL) ने सबसे पहले इंटरनेट की सेवा प्रदान की थी।

इसके बाद इंटरनेट को सबसे पहले बड़े बड़े शहरों तक पहुँचाया गया और 1996 में  Rediff Mail  जैसी वेबसाइट की शुरुआत हुई जिसके द्वारा आप अपनी खुद की Email Id Free में बना सकते थे। 

इसके बाद धीरे धीरे भारत मे इंटरनेट का विस्तार होता गया और सन 2000 में Technology Act को संसद में पास किया गया और –

इसे लागू कर दिया गया। इसके बाद  Yahoo India और Msn जैसे वेबसाइट भी साल 2000 के समय मे India में लांच हुए।

इंटरनेट कैसे काम करता है ?

Computers इंटरनेट के जरिए छोटे छोटे Connections के माध्यम से आपस मे Connected रहते है और यह Networks Gateway के द्वारा Main Internet Networks से Connected रहते है। 

तो ये सभी Computers, Internet Protocol और Transmission Control Protocol के जरिये आपस मे Communicate करते है और जब आप कोई File या Document किसी अन्य को भेजते है ।

तो Internet Protocol की मदद से आपका कंप्यूटर दूसरे कंप्यूटर के साथ Communicate करता है और फिर TCP की मदद से डेटा को छोटे छोटे हिस्सो में करके भेजता है ।

इसके साथ साथ उस डेटा में destination का IP address भी मौजूद होता है जो कि प्रत्येक कंप्यूटर और नेटवर्क का अलग अलग होता है।

इस पूरे Process में TCP और IP का बहुत अहम रोल होता है।

TCP का काम डेटा को छोटे छोटे Packets में बांटना और उसे फिर से Original Form में लाना होता है।

वही IP का काम यह होता है कि डेटा को जिस Address पर भेजा जा रहा है उसे ढूंढना और Message को उस Address तक पहुँचाना।

इंटरनेट कैसे और कौन प्रदान करता है ?

अगर हम इंटरनेट के प्रदान करने की बात करे तो यह बहुत ही पेचीदा मामला है –

किसी को नही पता है कि इंटरनेट को कौन Control  है, लेकिन इंटरनेट को सभी देशों के सरकारों के द्वारा ही संचालित और Control किया जाता है। 

लेकिन इंटरनेट को मोहैया करवाने के पीछे बड़े बड़े Tech Companies का हाथ है जो कि उनके डेटाबेस से जुड़ा होता है।

जैसे कि आज के समय मे Google के पास सबसे ज्यादा डेटा मौजूद है और वह डेटा इंटरनेट के जरिए सभी देशों तक पहुँचाया जाता है।

ऐसे तो देखा जाए तो इंटरनेट बिल्कुल फ्री है, लेकिन इसके उपकरण बहुत महँगे और Maintenance फीस भी बहुत ज्यादा होती है इसीलिए जब भी कोई व्यक्ति इंटरनेट को अपने ऑपरेटर के द्वारा खरीदता है तो उसको उसका पैसा देना पड़ता है।

इंटरनेट को देश की कुछ बड़ी Companies उपलब्ध करवाती है और समुंदर के नीचे तारो को बिछाती है और देशो के कुछ बड़े Data Base से उनको जोड़ा जाता है जिसमे की बहुत अधिक खर्च आता है। 

इसके बाद वो Companies देश मे मौजूद दूसरे छोटे और बड़े Telecom Operators को इंटरनेट डेटा के रूप में बेचती है।

और इसके बाद Telecom Operator’s डेटा को अपने ग्राहकों को बेचते है। ऐसे करके इंटरनेट हम तक पहुँच पाता है।

इंटरनेट को कैसे बनाया जाता है ?

  1.  इंटरनेट को बनाने के लिए सबसे पहले Database Servers को स्थापित किया जाता है। इसके बाद उन Database Computers को IP और TCP Technology के द्वारा Fiber Cable की मदद से जोड़ दिया जाता है। 
  2.  फिर उन Cables के जरिए दुनिया के अन्य बड़े Database को जोड़ा जाता है। इस तरह एक Internet का जाल तैयार हो जाता है। जो दुनिया भर के Database के साथ जुड़ा होता है। 
  3.  और उसके बाद वह Data Base आपके router के जरिए आपके Computer के साथ Wire या फिर Wireless माध्यम से जुड़ा होता है जिसे आप बड़ी आसानी से इंटरनेट चला पाते हैं ।

इंटरनेट के घटक

इंटरनेट के कुछ जरूरी घटक के बारे में जान लेते है।

  • DSL Modem-  DSL Modems  का इस्तेमाल डिजिटल Signals को Analog Signals में बदलता है। जो कि Telephone line पर डेटा को भेजने के लिए सही होता है। यह आमतौर पर Internet और Broadband Routers में पहले से ही मौजूद होता है। या यूं कहें कि इसको बनाया ही ऐसा जाता है की यह दोनों का काम करे।
  • DSL Broadband Filter- इसका उपयोग टेलीफोन Signals से DSL Signal को अलग करने के लिए किया जाता है। ताकि आप इंटरनेट और टेलीफोन का उपयोग अलग अलग कर सके और यह दोनों Signals आपस मे मिक्स न हो जाए।
  • Firewall और NAT Router- NAT Routers का इस्तेमाल छोटे नेटवर्क के लिए Firewall के रूप में किया जाता है। ताकि इंटरनेट के जरिए आपके कंप्यूटर में कोई व्यक्ति घुस न सके।
  • Computer Firewalls- यह Firewalls Computer में ही मौजूद होते है जो कि Computer Routers से कम Secure होते है।
  • Internet Connection Sharing- इसके द्वारा इंटरनेट को आपके Home या Office Area में Internet को शेयर किया जाता है।

क्या हम भी Internet बना सकते है ?

जी हाँ आज के समय मे कोई भी व्यक्ति खुद का Internet बना सकता है। यदि उस व्यक्ति को इसके बारे में जानकारी हो तो,

यहाँ तक कि बहुत सी Companies ऐसी होती है जो कि अपने Office के काम को तेजी से और Secure तरीके से करने के लिए खुद का ही Internet बना लेते है

ताकि Files को तेजी से Send या Receive किया जाए और Security से Related खतरा भी कम रहे, तथा काम और भी तेजी से हो सके। 

Companies अपने खुद के Servers से अपने सभी Office के Computers को एक दूसरे के साथ Wire या Wireless Device या LAN से जोड़ देते है |

जिससे कि उनके यहाँ मौजूद सभी Computers एक दूसरे से Connect हो कर एक Private Internet का निर्माण कर देते है। 

और डेटा को Company के Private Server में Store किया जाता है और उसी Server के द्वारा Data Transfer भी किया जाता है। जिससे कि उनका खुद का एक छोटा सा Internet तैयार हो जाता है।

इंटरनेट के लिए आवश्यक उपकरण

आज के समय मे जैसे इंटरनेट एक सबसे बड़ी जरूरत बन गया है इसीलिए जब भी आप कोई मोबाइल और कंप्यूटर Device खरीदते है तो यह सुनिश्चित करना बहुत जरूरी होता है कि उसमे इंटरनेट चलेगा या नही। 

इंटरनेट को इस्तेमाल करने के लिए कुछ जरूरी उपकरण आपके कंप्यूटर में जरूर होने चाहिए –

  • Microprocessor
  • Ram
  • Hard Disk
  • Monitor
  • Multimedia kit
  • Pointing Device
  • Modem जिसकी स्पीड कम से कम 56 Kilobytes Per Second की हो
  • Operating System Device में जरूर होना चाहिए।
  • Internet Browser ताकि Internet को आपके मोबाइल से Connect करके HTML Pages को Download कर सके।
  • Internet Connection जो कि आप किसी भी मौजूद Provider से ले सकते है।
  • एक Modem जिसके द्वारा आप अपने कंप्यूटर और Internet को आपस मे Connect कर सके।

वही यदि आप Smart Mobile Device या Laptop  का इस्तेमाल करते है इंटरनेट को Use करने के लिए तो उसके यह सभी चीज़े पहले से ही मौजूद होती है।

इंटरनेट स्पीड क्या है और कैसे चेक करे ?

Internet Speed kya hai aur kaise badhaye

Internet Speed वह चीज़ होती है जिसके द्वारा Data को तेज तरीके से एक जगह से दूसरे जगह तक Transfer किया जाता है और इसको Bites में मापा जाता है। 

यदि आपके कंप्यूटर में कोई Web Page धीरे धीरे खुल रहा है तो ऐसे में आपके कंप्यूटर में इंटरनेट Data, Slow ट्रांसमिट हो रहा या आपके नेटवर्क की Data Transmission की क्षमता कम है। 

मतलब की आपके Internet की स्पीड Slow है। वही यदि आपके इंटरनेट की Data को Transfer करने की क्षमता अधिक है तो आपके इंटरनेट की स्पीड तेज़ होती है।

लेकिन इंटरनेट स्पीड केवल Network और Router’s पर ही निर्भर नही करता है बल्कि यह आपके इंटरनेट प्लान और इंटरनेट Provider पर भी निर्भर करता है।

और इसके साथ Bandwidth पर भी निर्भर करती है।

यदि किसी इंटरनेट Provider के पास अधिक मात्रा में इंटरनेट यूजर्स मौजूद है और उसके इंटरनेट Bandwidth की Capacity कम है तो ऐसे में भी इंटरनेट की स्पीड पर काफी फर्क पड़ता है। 

इसको हम ऐसे समझ सकते है। अभी Jio 4g नेटवर्क की कई जगहों में इंटरनेट स्पीड काफी अच्छी है वही कही बहुत ही कम है, और जहाँ यह स्पीड कम है वहाँ अधिकतर Bandwidth की समस्या है।

मतलब की मौजूदा क्षमता से अधिक यूज़र्स वहां उपलब्ध है। जिसके कारण इंटरनेट की Speed Distribute हो जाता है। और आपको सही 4g क्षमता वाली इंटरनेट स्पीड नही मिल पाती है।

अगर आप अपने इंटरनेट की स्पीड को Test करना चाहते है तो –

आप  Google Net Speed Test  की वेबसाइट पर जाकर चेक कर सकते है या फिर  Ookla  की Website पर जाकर भी चेक कर सकते है।

यहाँ तक कि यदि आप Google में Net Speed Test Search करेंगे तब

आपके सामने बहुत से Internet Speed Test की Websites आ जाएगी जिनको Visit करके आप अपने Internet की Speed Test कर सकते है।

इंटरनेट स्पीड को कैसे बढ़ाएं ?

ऐसे तो इंटरनेट की स्पीड पूरी तरह से आपके Operator और आपके इंटरनेट प्लान पर  ही निर्भर होती है लेकिन आप इन तरीकों का इस्तेमाल करके अपने Internet Speed को कुछ हद तक बढ़ा सकते है

  • सबसे पहले यदि आपका Browser Web Pages को Download करने में ज्यादा डेटा इस्तेमाल करता है तो आप उसको  बदलकर कोई Fast Browser का इस्तेमाल करे जैसे कि UC Browser  या  Opera Browser
  • आप अपने मोबाइल में Network के APN को Change करके भी Internet की स्पीड को बढ़ा सकते है। लेकिन यह तभी संभव है जब आपको इसके बारे में जानकारी हो जैसे कि Proxy Address और Host Name के बारे में।
  • आप अपने Web Browser के Cache को Clear करके भी Speed को कुछ हद तक बढ़ा सकते है।

इंटरनेट से पैसे कमाना

आज के समय मे बहुत से लोग Internet के माध्यम से पैसे कमा रहे है।

लेकिन अगर आपको इसके बारे में जानकारी नही है कि आप कैसे इंटरनेट से पैसे कैसे कमाए , तो चलिए हम आपको कुछ तरीको के बारे में बता देते है –

  • Blogging- आज के समय मे Blogging बहुत से लोगो के बीच प्रचलित हो गया है। इसका कारण है लोगो का इंटरनेट के प्रति बदलता नज़रिया। सभी लोग आज के समय मे अच्छा पैसा और नाम कमाना चाहते है। लेकिन Blog को जितना आसान शुरू करना है उतना ही मुश्किल उसको Continue करना भी है। 

क्योंकि यहाँ आपको तरह तरह की मुश्किलों का सामना भी करना पड़ता है। कई बार तो बहुत से लोग निराश होकर इसको छोड़ भी देते है।

लेकिन यदि आप इसको हमेशा करते रहेंगे और नई नई Information अपने Visitors को Provide करते रहेंगे तो आपको Success जरूर मिलेगी और Blog से पैसा भी आपको बहुत अच्छा मिलने लगेगा।

  • Ecommerce Website- आप Ecommerce Website बनाकर भी काफी अच्छा पैसा कमा सकते है। आज के समय मे बहुत से लोग खुद के Products को Sell करने के लिए आने E-commerce वेबसाइट बना कर Sell करते है। और Drop shipping जैसे भी काम करते है। 

आज के समय मे Online Shopping का बहुत जोड़ है और लोग Online Shoping करना बहुत पसंद करते है। इसका कारण है कभी कभी समान Discount पर या Market से सस्ते दाम पर मिल जातें है। और उनकी Quality भी काफी अच्छी होती है।

  • Service Website- अगर आप किसी तरह की Service Provide करते है जैसे कि आप Home Cleaning या फिर AC Service या Repair करते है तो ऐसे में आप अपने वेबसाइट के माध्यम से Booking ले सकते हैऔर इससे लोगो को भी आप तक पहुँचने में आसानी होती है। जिससे कि आपकी Reach और Consumer’s की संख्या बढ़ जाती है। और आपको कमाई में भी मुनाफा होता है।
  • Trading- अगर आप Trading करते है या Share Market में पैसा Invest करते है तो आप Investing के द्वारा भी ऑनलाइन पैसा कमा सकते है। लेकिन मैं आपको यही सलाह दूँगा की आप यदि आप नए है और Share Market में Invest करना चाहते है तो सबसे पहले आप इसके बारे जरूर जान ले। ताकि आपको किसी प्रकार का Lose न हो।
  • YouTube YouTube आपको पैसे के साथ Fame भी देता है। यदि आप YouTube पर Popular Creator बन जाते है तो आपको YouTube के माध्यम से Earning तो होती ही है लेकिन उसके साथ साथ आपको Sponsorship भी Brands के द्वारा मिलता है जो कि आपकी Earning को 3 से 10 गुना तक बढ़ा देता है।

और यदि आप Gaming Creator है तो आपको Super chat और Donation भी काफी अच्छा मिलता है। वही Traveling Vloggers को बड़े बड़े Events और Hotels और Tourist Places को Explorer करने के लिए बुलाया जाता है। और उसके बदले पैसे और रहना खाना सब Sponsor किया जाता है।

  • Affiliate Marketing- Affiliate Marketing आज सभी Bloggers, You tubers Freelancers और अन्य प्रकार के Online Marketing का हिस्सा बन गया है। इसके द्वारा आज बहुत से लोग लाखो रुपए एक दिन में  बना रहे है। 

अगर आपको नही मालूम है कि Affiliate Marketing क्या है तो मैं आपको बता दु की इसमे Products को Digital Platforms पर Promote करना होता है और जब कोई व्यक्ति आपके लिंक के द्वारा Click करके Product को Buy करता है तो उसका कुछ हिस्सा आपको Commission के तौर पर मिलता है। जिसके जरिए आपको Earning होती है।

  • Freelancing- Freelancing में आप अपने Service को डिजिटल प्लेटफार्म पर बेचते है। जैसे कि आप कोई Graphic Designer या फिर Web Developer है तो आपको जब कोई व्यक्ति किसी Freelancing Platform की मदद से Hire करता है। और वह अपने काम के बदले आपको पैसे Pay करता है। 

आज के समय मे बहुत से ऐसे Freelancing Websites मौजूद है जहाँ आप अपनी Profile बना कर ऑनलाइन काम करके कमा सकते है। Fiverr और Up work दो सबसे बड़ी Freelancing Websites आज के समय मे सबसे Trusted Sites है।

इंटरनेट से ऑनलाइन पढ़ाई करना

दोस्तों क्या आपने कभी भी ये जानने की कोशिश करी की ऑनलाइन पढ़ाई कैसे करें क्योंकि इस दुनिया में बदलते युग के साथ हर चीजों में बदलाव आ रहा है। अब हर चीज में ऐसे नए नए रास्ते खुल रहे हैं जिनका असर सीधे मानव जीवन पर पड़ रहा है।

ठीक वैसे ही अब पढ़ाई के क्षेत्र में भी बड़ा क्रांतिकारी आने वाला है जिसके कई भाग में बड़ा बदलाव आ भी गया है । अब आप कहीं भी रहकर इंटरनेट से ऑनलाइन पढ़ाई कर सकते हैं ।

अब पढ़ाई के भी कई क्षेत्रों में आपको अपने घर से ही पढ़ने की सुविधा मिल जाती है जो कि इंटरनेट के माध्यम से ही संभव हो पाता है ।

आज पढ़ाई के क्षेत्र में भी आप बड़े-बड़े चीजों को Internet के माध्यम से पढ़ सकते हैं और लाखों लोग इंटरनेट का उपयोग करके घर से ही पढ़ाई कर रहे हैं ।

जो लोग अपने घर से दूर जाकर पढ़ाई नहीं कर पाते या जिनकी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं होती उनके लिए इंटरनेट रामबाण का काम कर रहा है ।

वे इंटरनेट के उपयोग से बड़े-बड़े Syllabus को घर में ही बैठकर पूरी कर लेते हैं और बिना घर से निकले ही कठिन से कठिन विषयों को अच्छे से समझ लेते हैं ।

इंटरनेट पढ़ाई से महत्वपूर्ण लाभ

  1. इसका सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि इसकी वजह से आपको घर से बाहर नहीं निकलना पड़ता आप घर बैठे ही अपनी पढ़ाई पूरी कर सकते हैं ।
  2. जिन लोगों की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है वह भी इंटरनेट के माध्यम से बड़े-बड़े चीजें जिनके लिए बहुत ज्यादा मात्रा में पैसे की जरूरत होती है, उसे लगभग मुफ्त में पड़ सकते हैं
  3. इसके लिए कोई समय की पाबंदी नहीं होती।  मतलब आप जिस समय Free  होते हैं, उस समय अपनी पढ़ाई कर सकते हैं जिसका सीधा फायदा यह भी होता है कि आप Part Time Job करते-करते भी इंटरनेट के माध्यम से अपनी पढ़ाई Complete कर सकते हैं ।

इंटरनेट बैंकिंग

इंटरनेट बैंकिंग एक सबसे बेहतरीन सर्विस है जिसके द्वारा आप अपने बैंक एकाउंट को इंटरनेट की मदद से कंट्रोल कर सकते है और आपको उसमे बहुत सी चीज़ों को करने में भी आसानी होती है। 

मान लीजिये कि आपको अपने बैंक के सभी Transactions को देखना है तो

यदि आप Manually देखना चाहते है तो इसके लिए आपको सबसे पहले बैंक में जाकर अपने पास-बुक पर एंट्री  करवानी होगी तब आप अपने सभी Transactions को देख सकते है। 

लेकिन इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से आप अपने बैंक एकाउंट में login करके बड़ी ही आसानी से कभी भी किसी भी समय की Transactions Details को Download कर सकते है।

यहाँ तक कि आप Mutual Funds में भी इंटरनेट बैंकिंग कि मदद से Investment कर सकते है। 

वही अगर किसी को आपको पैसे भेजना हो तो इसमे भी आपको बहुत आसानी होती है।  आपको केवल इंटरनेट बैंकिंग या Internet बैंकिंग App की मदद से किसी भी तरह के फण्ड को Send कर सकते है।

उसके लिए केवल आपको अपने एकाउंट में लॉगिन होना है और फण्ड ट्रांसफर वाले ऑप्शन पर जाना है जो कि सभी ऑनलाइन बैंकिंग प्लेटफॉर्म पर एक जैसा ही होता है।

इसके बाद आपको जिसके एकाउंट में पैसा Transfer करने है उसका बैंक एकाउंट नंबर और उसके बैंक का IFSC Code डालना है।

और Amount को डालना है इसके बाद आप Proceed पर क्लिक करे और पैसा कुछ ही Seconds में Sender के एकाउंट में ट्रांसफर हो जाएगा।

गांव गांव में इंटरनेट

Gaon Gaon me internet

आज के समय मे देखा जाए तो सभी जगह इंटरनेट पहुँच चुका है। चाहे वो कोई शहर हो या फिर कोई गांव हो। गांव के लोग भी अब इंटरनेट की मदद से खुद को शिक्षित और कुशल कर पा रहे है। 

आज से कुछ सालों पहले की ही बात है जब इंटरनेट गांव के लोगो के लिए सपना हुआ करता था लेकिन

जब से इंटरनेट सस्ता हुआ है तब से इंटरनेट की डिमांड भारत मे काफी बढ़ी है और लोगो ने ऑनलाइन शॉपिंग, और ऑनलाइन पढ़ाई करना शुरू कर दिया है। 

आज के समय मे अगर किसी को भी किसी तरह की Information चाहिए होती है तो सबसे पहले वह इंटरनेट पर ही अपने सवाल के जबाब को ढूंढता है।

आज के समय मे गांव के लोग इंटरनेट की मदद से नए नए छोटे उद्योग लगा रहे है। लेकिन इंटरनेट का फायदा सबसे ज्यादा Agriculture के क्षेत्र में हुआ है।

अब किसानों को यदि किसी प्रकार की खेती से जुड़ी समस्या होती है तो वो लोग इंटरनेट पर उसका हल ढूंढ लेते है। और फार्मिंग के नए नए तरीकों के बारे में भी सीखते है।

वही यदि वो लोग किसी अन्य के पास इन तरीकों के बारे में सीखने जाते है तो

उनको काफी पैसा देना पड़ता है तथा और भी अन्य प्रकार के खर्चे होते है। लेकिन ऑनलाइन सीखने में उनको ख़र्चा भी न के बराबर आता है और समझने में भी बहुत आसानी रहती है।

इंटरनेट से ग्रामीण लोगो के लाभ

इंटरनेट की मदद से अब ग्रामीण लोग भी दुनिया से जुड़ सके है।

आज के समय मे  इंटरनेट के बिना कोई भी काम कर पाना संभव नही है

ऐसे में गांव के लोगो को इसके बारे में अधिक जानकरी न होने के कारण बहुत से तरह के परेशानियों का भी सामना करना पड़ता था।  लेकिन आज के समय मे Internet का Access लगभग सभी के पास है। 

और अब गांव वालों को अपने किसी Online काम को करने लिए दूर किसी बड़े शहर में नही जाना पड़ता है।

तो चलिए जान लेते है इंटरनेट से ग्रामीण लोगो को कितना और क्या क्या फायदा हुआ है-

  • इसकी मदद से ग्रामीण लोगो की जागरुकता बढ़ेगी।
  • इंटरनेट का इस्तेमाल करके वो लोग अपनी खेती में भी सुधार कर सकते है। और नए नए तरीके भी सीख सकते है।
  • इसकी मदद से गांव में भी Digital Payments को भी बढ़ोतरी मिलेगी।
  • नए व्यापार के साधन खुलेंगे। 
  • इंटरनेट की मदद से Information को भी ढूंढ कर अपनी परेशानियों को दूर कर सकते है।
  • इंटरनेट के द्वारा वो लोग किसी भी चीज़ का मौजूद Price Check कर सकते है जिससे कि उनके साथ ठगी भी नही हो पाएगी।

इंटरनेट का विकाश

अगर हम पिछले कुछ वर्षों को देखे तो हमारे रहने के तरीके में काफी बदलाव आया है। पहले हम बहुत से तरह की Activities करते थे। लेकिन आज के समय मे अपना Free Time बहुत से लोग Internet पर ही बिताते हैं। 

इसी से पता चलता है कि Internet की दुनिया मे कितना विकास हुआ है। और आज यह हमारे लिए कितनी बड़ी जरूरत भी बन चुका है।

वही अगर हम Internet की शुरुआत से अब तक के सफ़र को देखे तो GPRS Data से लेकर आज हम 4g Data की High Speed तक तरक्की कर चुके है।

और अभी 5G Internet पर काम चल रहा है जो कि अब आने वाले कुछ वर्षों में शुरू भी कर दिया जाएगा। तो चलिए Internet के विकास और इसके Generation के बारे में जान लेते है।

1969 में सबसे पहले अमेरिकी रक्षा विभाग ने अपने “एडवांस रिसर्च प्रोजेक्ट्स एजेंसी” की मदद से यूनिवर्सिटी के कुछ Computers को Network से जोड़ कर Internet ARPANET की शुरुआत की,

इसका मुख्य उद्देश्य यह था कि जब जंग के दौरान सभी Commutation वाले उपकरण नाकाम हो जाए तो इसकी मदद से Communicate किया जा सके।

  • आगे चल कर इसमे और भी विकास हुआ और 1972 में E-MAIL की शुरुआत हुई।
  • 1973 के समय तक एक और Technology ने Internet की रूप रेखा ही बदल दी जिसका नाम Internet Protocol और TCP है। और 1983 के समय तक Internet Protocol की मदद से एक Computers के बीच Communication का माध्यम बन चुका था।
  • 1980 के समय तक 1g Network आ चुका था और इसकी Internet Speed 2.4Kbps की थी।
  • सन 1984 में Domain Name System को Introduce किया गया इससे पहले Host को एक Numeric Number से जाना जाता था। लेकिन DNS के आ जाने के बाद प्रत्येक  Host को एक नाम प्राप्त हुआ।
  • इसके बाद 1986 में U.S National Science Foundation ने NSFNET को  लांच किया और यह सबसे पहली ऐसी कोई Technology थी जिसमे बड़े स्तर पर Internet का प्रयोग किया हो।
  • वही 1991 में 2g Network की शुरुआत हुई जिसकी मदद से Calling में Voice Quality में सुधार आया और इसकी मदद से Multimedia Files और Text को भी Send और Receive किया जा सकता था। इसके बाद इसमे काफी सुधार किये गए और इसको Upgrade 2.5g और 2.7g तक किया गया।
  • ऐसे ही आगे चलकर 1993 में National Center of Supercomputing Application ने Magine नामक Networking System को बनाया जिसकी मदद से अब Internet पर Text और Graphics को देख और पढ़ पाना आसान हो गया। और इसकी लोकप्रियता और बढ़ने लगी।
  • 1995 का समय आते आते Microsoft ने आने Web Browser Launch कर दिए। अब इसकी मदद से किसी भी Website को खोल पाना बहुत आसान हो गया था। जिसके कारण इंटरनेट यूजर्स की संख्या भी बढ़ने लगी।
  • इसके बाद 3g तकनीक की शुरुआत 2001 में जापान में हुई और इसके बाद Internet की दुनिया मे बहुत ही बड़ा बदलाव आया। जहाँ 3g की Downloading Speed 21 mbps की थी वही Uploading Speed 5mbps तक कि थी।  

इसकी मदद से आप Video Calling और TV Streaming Online कर सकते थे। जिसके बाद लोगो ने Internet का इस्तेमाल करना धीरे धीरे शुरू कर दिया था। और इसका इस्तेमाल Industrial कामो ने किया जाने लगा था।

  • इसके बाद 4g Technology ने Internet की दुनिया ही बदल दी। इसके द्वारा आप Buffering Free Videos HD में देख सकते है। और 4g की Speed 100 mbps से लेकर 1 gbps तक की है। 

इसकी मदद से Digital World में बहुत बड़ा बदलाव भी हुआ है। आज के समय मे Video Streaming Platforms को भी बढ़ावा मिला है। 

  • 2010 में 5g Network पर काम शुरू कर दिया गया था और अब यह लगभग रेडी भी हो चुका है। इसकी Speed 1gbps से भी अधिक होगी और इसकी मदद से हम Future में Ultra HD Videos को Stream कर सकेंगे और Gaming को भी lag Free खेल सकेंगे। 5g Technology की मदद से Driver Less Vehicles को भी Road पर चलाया जा पाना संभव हो जाएगा। यह Technology Internet के क्षेत्र में क्रांति ला देगी।

Conclusion – आज हमने क्या सीखा ?

इंटरनेट आज के समय मे सभी की सबसे बड़ी जरूरत बन चुका है।

आज के समय मे लोग इंटरनेट के बिना एक पल भी नही रह सकते है। और रहे भी तो कैसे बैंकिंग से लेकर हर प्रकार का छोटा बड़ा काम आज इंटरनेट के जरिए ही हो रहा है। 

चाहे आपको खाना ही क्यो न Order करना हो। उसके लिए भी इंटरनेट की जरूरत पड़ती है।

अगर देखा जाए तो इंटरनेट आज हमारी सबसे बड़ी जरूरत बन चुकी है। और आगे आने वाले समय मे इसके बिना एक पल भी आगे बढ़ पाना संभव नही होगा। 

जैसा पैसा आज सभी के लिए बहुत जरूरी है वैसे ही आने वाले समय मे इंटरनेट सभी के लिए दूसरी जरूरी चीज बन जाएगा।

Written by

तो दोस्तों, अगर आपको "इंटरनेट" से Related और कोई भी जानकारी चाहिए तो नीचे Comment में जरुर पूछें या नीचे Click कर उपयोगी पोस्ट पढ़ना न भूलें...!

और उपयोगी पोस्ट ↙

Comments (16)

Comment...!!
  1. Manish

    बहुत ही बेहतरीन जानकारी

    • बहुत बहुत धन्यवाद मनीष जी आपका ..

  2. Kishan

    aaj shayad internet ke bina koyi na rah sake. Sabko aadat si ho gayi hai.

    • हमें बहुत ख़ुशी हुई संजय जी की आपको इंटरनेट पर यह जानकारी उपयोगी लगी .

  3. आपने बेहद ही सरल शब्दों मे इंटरनेट की जानकारी दी। आपने कई नई चीजों के बारे बताया है।

    • बढ़िया ,बहुत बहुत धन्यवाद आपका ..

  4. Kulesh

    Good bro osm……saheb

Leave a Reply to Manish Cancel reply