रैम क्या है ? प्रकार, Quality Full Guide in Hindi

RAM क्या है और वास्तव में इसका उपयोग क्या होता है ?

क्या आपके दिमाग में भी यह सवाल आता है , क्योंकि हम मोबाइल या कंप्यूटर लेने से पहले इस शब्द RAM के बारे में अधिकतर सुनतें हैं कि आपके मोबाइल या कंप्यूटर में RAM ज्यादा होना चाहिए तभी आपका मोबाइल/कंप्यूटर Fast चलेगा या फिर इंटरनेट Fast चलेगा और हैंग ( Hang ) नहीं होगा |

RAM kya hai

RAM क्या है – What is RAM in Hindi

RAM किसी भी Computer की Primary Memory के तौर पर होता है जो कि Computer को on करते ही सभी तरह के Data को Store होने के लिए Temporary Virtual Space Provide करता है और Processor को Randomly Data Process करने ले लिए भेजता रहता है। 

RAM का Full Form, “Random Access Memory” होता है |

मतलब ऐसा Memory जिसका उपयोग Randomly किया जाता है  मतलब कुछ Operation तक इसका उपयोग रहेगा फिर इसका उपयोग ख़त्म तो चलिए जानतें हैं की RAM आखिर क्या होता है और इसके उपयोग से क्या वास्तव में आपके Mobile का Speed बढ़ जाता है |

RAM केवल Current Time में Run करता है और यह केवल आपके DATA को तब तक ही अपनी Memory में Store कर के रख सकता है जब तक कि आप Computer बंद कर दे। एक बार Computer बंद होने के बाद आपका जो भी DATA RAM के अंदर Store होता है वह पूरी तरह से Delete हो जाता है।

इसको आप ऐसे भी समझ सकते है –

मान लीजिए RAM एक Temporary Board की तरह है जिस पर आप DATA को लिखते रहते है और Board जितना बड़ा होगा आप उतना अधिक DATA एक बार मे लिख पाएंगे और Board का Space भर जाने पर आप गैर जरूरी DATA को मिटा कर Space खाली कर लेते है ताकि नया DATA उस पर लिख सके। 

वैसे ही जब RAM की Virtual Memory Full हो जाती है तो आपका Computer Slow काम करने लगता है और आपको Apps और DATA को RUN करने के लिए Space खाली करने को कहता है और जैसे ही आप कुछ APPS को बंद करते है आपका Virtual Memory खाली हो जाता है। और फिर आप नए APPS को Run कर पाते है।

RAM की परिभाषा – Definition of RAM in Hindi

RAM को अगर हम एक शब्द में परिभाषित करे तो RAM एक Temporary Memory है जो को Computer का real Time DATA अपने पास Store करके रखती है तथा RAM में DATA Cells में Store रहता है

और हर एक  Cell में Rows और Columns से मिलकर बना होता है जिसका अपना अपना Unique Address होता है और Circuit बहुत सारे Capacitors और Transistors से मिलकर बना होता है जिसमे एक Capacitor और Transistor का Pair बना होता है और यह Memory के 1 bit को दर्शाता है।

Computer RAM kya hai Hindi

वही Capacitor DATA को Binary Form यानी कि 0 or 1 में Store करके रखता है। वही transistor Switch के रूप में कार्य करता है और Circuit को Control करता है।

अब यहाँ Capacitor एक बाल्टी की तरह होता है जो कि Electrons को Store करता है और यह Electrons से भरा होता है। इस बाल्टी या यूं कहें कि Bucket की Problem यह होती है कि इसमे Electrons का धीरे धीरे Leakage होते रहते है और ऐसे में कुछ Milliseconds के अंदर Bucket खाली हो जाता है।

इसी लिए इसको बार बार Refresh करना पड़ता है ताकि उसमे Electrons Discharge हो और DATA मौजूद रहे। इसी गुण के कारण इसको Dynamic Memory भी कहा जाता है।

RAM का FULL FORM – Full Form of RAM in Hindi

तो चलिए अब जानते है कि RAM का Full Memory क्या होता है | RAM का full form RANDOM ACCESS MEMORY होता है।

FULL FORM of RAM

R- Random

A- Access

M- Memory

RAM के प्रकार – Types of RAM in Hindi

क्या आपको RAM के प्रकार के बारे में पता है कि यह कितने तरह के होते है यदि नही तो चलिए हम आपको बताते है।

  • Static RAM
  • Dynamic RAM

Static RAM

Static RAM आज के समय मे सबसे ज्यादा उपयोग होने वाली RAM है क्योंकि इसकी खाश बात यह होती है कि इसमे Store रहने वाले DATA को लंबे समय तक Store रहता है और आपको DATA को बार बार Refresh करने की जरूरत नही पड़ती है।

क्योंकि इसका Structure कुछ इस तरह का बनाया गया होता है कि इसमे मौजूद Electrons को Leakage से बचाया जाता है जिससे को Electrons Discharge नही होते है और आपका DATA इसमे तब तक मौजूद रहता है जब तक कि आपका Computer ON रहता है।

Dynamic RAM

Dynamic RAM जैसा कि आपको नाम से ही पता चल गया होगा कि इसमे Capacitor में जो DATA मौजूद होता है वह धीरे धीरे Leakage के कारण नष्ट होता रहता है और यदि आप Computer को Refresh नही करते है तो DATA खत्म हो जाता है

और इस कारण इसमे Constant बदलाव होता रहता है इस लिए इसे Dynamic RAM कहते है।

RAM का इतिहास – History of RAM in Hindi

Computer RAM ka Itihas - History of RAM in Hindi

RAM सबसे पहले 1947 में आया था जो कि Williams Tube के रूप में था। इसमे एक CRT (cathode ray tube) का उपयोग किया गया था जो कि DATA को Store Electrically Charged Spot के रूप में रखता था।

दूसरा जो सबसे ज्यादा RAM का इस्तेमाल किया गया वो Magnetic Core Memory थी जिसको 1947 में बनाया गया था जिसका Credit Frederick Viehe को जाता है।

यह Magnetic Core Memory Magnetic के छोटे Rings और Wires जो कि Rings के साथ जुड़े होते थे उसके द्वारा कार्य करता था। इसमे के एक bit DATA को एक ring में Store किया जाता था।

जिन RAM का उपयोग हम आज के समय के करते है वो Solid State RAM है जिसको पहली बार 1968 मे बनाया गया था |

इसको बनाने का श्रेय Robert Dennard को जाता है जिनको Dynamic Random Access Memory या DRAM के नाम से जाना जाता है। जिसमे की Transistor का इस्तेमाल DATA को bits में Store करने के लिए किया जाता है।

RAM के कार्य – RAM की जरूरत क्यों पड़ती है ?

RAM की जरूरत आज के समय मे सभी Computers और Mobile या जो भी Computer Based Machine इस्तेमाल होती है उन सभी मे RAM का इस्तेमाल किया जाता है क्योंकि यह Computer की Primary Virtual Memory होती है, और जो भी DATA Process होने के लिए Processor के पास जाता है वह इसी से होकर जाता है तथा Temporary इसी में Store में रहता है। 

इसमे जो भी DATA होता है वो Randomly Store और Process होने के लिए जाता है।

आज के समय  के  RAM थोड़े Smart भी हो गए है और आप जिस Program को इस्तेमाल कर रहे होते है उसका DATA आगे Processor के पास पहले Send करता है ताकि आपको अधिक इंतज़ार करना पड़े और Background में Run हो रहे DATA को बाद में Process होने के लिए Send करता है जिसकी वजह से आपको बेहतरीन Speed का अनुभव भी मिलता है।

अगर आपके Computer में RAM हो, तो आप Computer को Start तक नही कर सकते है क्योंकि जब Computer के पास DATA को Store करने के लिए कोई Primary Memory नही होगी।

RAM को विशेषताएं – Characteristic of RAM in Hindi

 अब आपको हम RAM की विशेषताओं के बारे में बताते है। 

  • RAM ऐसी Memory होती है जो कि DATA को Permanent अपने पास Store करके नही रखती है और जब भी आप Computer को OFF करते है तो DATA भी Delete हो जाता है।
  • RAM दूसरे Memory Storage Device के मुकाबले महंगी होती है जैसे कि HDD
  • RAM की Memory Capacity SSD या HDD के मुकाबले कम होती है।
  • RAM को Computer का Primary Storage भी कहा जाता है।
  • RAM की Speed भी HDD के मुक़ाबले अधिक होती है।
  • सभी तरह के Programs और APPS, RAM में ही चलते है।
  • यह Upgradable भी होते है।

ज्यादा GB RAM होने के बाद भी RAM की Quality कैसे Check करे ?

ऐसा बहुत बार बहुत से लोगो के साथ होता है कि अक्सर लोग जल्दबाजी में या फिर कम ज्ञान होने के कारण RAM लेते वक्त उसकी सही गुणवत्ता को नही पहचान पाते है और जब इस्तेमाल करते हुए उनको कुछ वक्त हो जाता है तो वो लोग खुद को ठगा हुआ महसूस करने लगते है। 

आपके साथ भी ऐसा हो और RAM ख़रीदते हुए आप ठगे जाएं इस लिए आपको RAM खरीदते वक़्त कुछ महत्वपूर्ण बातों का ध्यान  रखे।

RAM खरीदते वक्त हो सके तो आप कुछ Popular और अच्छी कंपनियों के RAM को हो Consider करे जैसे कि CORSAIR’S, KINGSTON, CRUCIAL, G.Skill आदि।

हालांकि इनमें से कुछ RAM के Price भी दूसरे Manufacture के मुकाबले महँगे मिलेंगे, लेकिन इनकी Quality काफी अच्छी होती है और आपको यह बेहतरीन Performance भी देते है और आप Heavy Works भी इनमे आसानी से कर सकते है जैसे कि Gaming और Video Editing.

किसी भी RAM को बिना इस्तेमाल के आप आसानी से उसकी Quality के बारे में नही जान सकते है लेकिन कुछ चीज़ें है जो कि आपको RAM की Quality Ensure करने मे मदद करती है।

जैसे कि RAM कौन सी Company का है, उसमे कितनी Memory Capacity है। (लेकिन RAM को खरीदते वक्त यह भी चेक कर ले कि क्या आपका Motherboard अधिक Capacity को Support करता है या नही और वह Dual Channel RAMs को Support करता है)

क्या वह Dual Channel RAM है, क्या वह Heavy Tasks को कर सकता है।

इन सब चीज़ों को जानने के बाद ही आप RAM को खरीदे। लेकिन आप RAM खरीदने से पहले अपने Motherboard के Configuration के बारे में भी जानकारी रखे, ताकि आप सही सामान खरीदे।

Mobile और Computer के RAM में अंतर ( Difference )

तो चलिए Mobile RAM और Computer RAM में क्या फर्क होता है इसके बारे में जान लेते है –

Mobile RAM Computer RAM
Mobile की RAM को अधिक Power Saving और Performance को ध्यान में रखते हुए बनाया जाता है जिससे कि कई बार Performance के साथ Compromise हो जाता है। Computer RAM को High Performance के लिए Design किया जाता है ताकि Heavy APPS और Task को आसानी से RUN कर सके।
अधिकतर Mobile के Processors में LPDDR Technology का उपयोग होता है इसी लिए इनके RAM भी इसी पर Based होते है। वही Computers में PCDDR Technology को उपयोग किया जाता है। जिससे कि इसमे RAM भी इसी के अनुसार लगता है।
Mobile RAM का Architecture ARM Based होता है। लेकिन Computer RAM में intel x86 Architecture का इस्तेमाल होता है।
Mobile की RAM को आप Upgrade नही कर सकते है क्योंकि वह Inbuilt और Irremovable होते है। लेकिन Computer RAM को आप आसानी से Upgrade कर सकते है। लेकिन इन मे भी कुछ Limitations है। जैसे DDR3 Supported Motherboard में केवल इसी Series के RAM के साथ Upgrade किया जा सकता है।
Mobile RAM केवल Mobile Phones में Use करने के लिए बने होते है। वही Computer RAM का इस्तेमाल कई तरह की Technologies में किया जाता है।

Mobile और Computer में RAM कैसे CHECK करते है ?

अगर आप ने अपने Computer का RAM Change किया है या नया Computer खरीदा है और आप उस Computer में मौजूद RAM को Check करना चाहते है तो यह बहुत आसान है तो चलिए आपको बताते है कि कैसे आप किसी भी नए Mobile या Computer में मौजूदा RAM को Check कर सकते है।

किसी भी Desktop Computer में या Laptop में RAM को Check करने के लिए

  • आपको सबसे पहले अपने Start Button पर Click करना है।  
  • इसके बाद आपको My PC या My Computer वाले Option को Select करके या Direct Right Click Press करना है।
  • यहाँ आपके सामने कुछ Option खुल जाएंगे।
  • अब आपको इन सभी Options में से Properties वाले Option पर Click करना है।
  • अब यहाँ आपको अपने Computer की Basic Hardware Configuration देखने को मिल  जाएगी। जैसे कि मौजूदा installed RAM, Processor Speed, OS, आदि सभी चीज़ों की जानकारी मिल जाएगी।

Android Mobile में RAM को Check करने के लिए आपको ज्यादा कुछ नही करना है यह भी बिल्कुल Simple है।

  • सबसे पहले आपको अपने Android Phone में Settings को Open कर लेना है।
  • अब आपको यह About Phone वाले Option पर Click करना है।
  • यहाँ आपको आपके Phone से Related सभी चीज़ों की Information मिल जाएगी। जहाँ Installed RAM की Information देखने को मिल जाएगी।

ऐसे ही यदि आप IPhone में अपने Installed RAM की जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो

  • सबसे पहले आप अपने Mobile में Settings को खोल ले।
  • इसके बाद यहाँ आप About Phone के Option पर Click करे।
  • यहाँ आपको आपके Phone से Related सभी जानकारी मिल जाएगी और वहां आपको Installed RAM की भी जानकारी देखने को मिल जाएग

Computer में RAM को कैसे लगाते है – How to Put RAM in Computer 

अगर आप अपने HOME Computer में RAM को CHANGE करना चाहते है, तो वह बहुत ही आसान Process है लेकिन वही यदि आप अपने RAM को LAPTOP में Change करना या Upgrade करना चाहते है तो यह बहुत मुश्किल भरा कार्य आपके लिए हो सकता है

क्योंकि Laptop को खोलना ही सबसे बड़ी परेशानी है और बिना Technical ज्ञान के आप Laptop को कभी मत खोले वरना हो सकता है कि कोई चीज़ आपके द्वारा Damage हो जाए।

Computer में RAM को Change करना बहुत आसान है लेकिन उसके लिए भी आपको RAM के बारे में जानकारी होनी चाहिए कि RAM कौन सी Generation का लगा हुआ है |

आपके PC में तथा आपका Motherboard कितने GB तक का RAM SUPPORT कर सकता है। तभी आप अपने Computer का RAM Change या Upgrade कर सकते है।

परन्तु आपको RAM के Generation की चिंता करने की कोई जरूरत नही है क्योंकि आपके Computer में लगे हुए Mother Board मे जिस Generation का RAM Support करता होगा, उसी के अनुसार उसमे Cuts लगे होंगे और FIT होगा।

तथा आप किसी भी Motherboard में कोई भी Generation का RAM नही लगा सकते है लेकिन आपको RAM खरीदते वक्त जरूर Generation का ध्यान रखना होगा वरना आप यदि गलत खरीद लेते है तो उसे वापिस करना होगा क्योंकि वह आपके Motherboard में Support नही करेगा।

RAM को PC में Change करने के लिए आपको अपना CPU का Cabinet खोलना है और उसमे आपको एक Chip लगी दिखाई देगी इसके साथ साथ वहा Board पर RAM भी लिखा दिखाई देगा।

तथा RAM के लिए Computer Motherboard में अतिरिक्त स्थान दिया गया होगा जो कि खाली होगा। आप चाहे तो उसमें Supported RAM को Insert कर सकते है या आप पुराने RAM को निकाल कर नए के साथ Replace कर सकते है। 

FAQ – अतिमहत्वपूर्ण 7 सवालों के जवाब 

RAM क्यो जरूरी है ?
जैसे किसी भी समान को Store करने के लिए खाली जगह की जरूरत पड़ती है वैसे ही Computer में APPS को Store और RUN होने के लिए एक Space की जरूरत होती है जो कि Computer को RAM Provide करता है। इसीलिए Computer को बिना RAM के आप इस्तेमाल नही कर सकते है।
Mobile में कितना RAM होना चाहिए ?
आज के समय के अनुसार Mobile में देखा जाए तो कम से कम 4GB RAM वाला Phone अच्छा Option होता है क्योंकि वह FAST होता है और आपके Mobile में अधिक APPS भी मौजूद हो तो उसको आसानी से Handle कर लेता है। और Gaming के लिहाज से भी 4gb RAM वाला Phone अच्छा रहता है।
क्या RAM से इंटरनेट की स्पीड पर भी असर पड़ता है ?
जी नहीं , RAM से इंटरनेट की स्पीड पर कोई असर पड़ता क्योंकि इंटरनेट की स्पीड ज्यादातर आपके इलाके में उपलब्ध नेटवर्क टावर्स  की Capicity पर पड़ता है ।
Computer में कितने GB RAM की आवश्यकता है ?
आज के समय के अनुसार 4GB RAM वाला Computer भी अच्छा होता है लेकिन मेरी माने तो आपको कम से कम 8GB RAM Computer में होना चाहिए ताकि आप Heavy Task भी आसानी से कर सके।
RAM का मुख्य उपयोग
RAM Computer में Real Time DATA को Handle करता है और DATA को Process करने के लिए Processor के पास Randomly Send करता है जिसके बाद आपको Output Monitor में Show होता है। बिना RAM के आप Computer को चला नही सकते हैं क्योंकि यह भी Computer का एक Important हिस्सा होता है।
Best RAM किस Company के होते है ?
1. Sandisk 
2. Crucial
3. G. Skill
4. Kingston
Gaming PC में कितने GB RAM की आवश्यकता होती है ?
Gaming PC के लिए आपको कम से कम 12 से 64 GB RAM वाला PC Consider करना चाहिए, ताकि आप किसी भी Game को आसानी से Computer में play कर सके और उसमे Frame Drop या Lagging की समस्या न आए।
क्या Mobile RAM और Computer का RAM अलग होता है ?
जी हाँ Mobile और Computer के RAM में काफी अंतर होता है Mobile का RAM Energy Efficient होता है वही Computer का RAM High Performance के लिए Design किया जाता है और Computer RAM, X86 Architecture पर Based होते है। वही Mobile RAM, ARM Architecture पर Based होते है और भी इनमे कई तरह के अंतर होते है जो कि हमने ऊपर Cover किया है।

Conclusion

RAM किसी भी Computer या Mobile सबसे महत्वपूर्ण Part होता है और अगर RAM नहीं रहा तो कोई भी Mobile या Computer काम ही नहीं करेगा |

अगर आपके Computer/Mobile में एक अच्छी Company का और बड़ी SIZE का RAM लगा है तो आपके Mobile का Speed बेहद अच्छा रहेगा |

Written by

तो दोस्तों, अगर आपको "कंप्यूटर या मोबाइल रैम" से Related और कोई भी जानकारी चाहिए तो नीचे Comment में जरुर पूछें या नीचे Click कर उपयोगी पोस्ट पढ़ना न भूलें...!

और उपयोगी पोस्ट ↙

Comments

Comment...!!

Leave a Comment