What is Tally क्या है और कैसे सीखें [ 2021 ] How to Learn Tally in Hindi

एक समय था जब कि सभी प्रकार के Business Related Accounts की जानकारी रखने के लिए Note Book या Register में Entry करके रखा जाता था जिससे की जो भी वस्तु खरीदी या बेची गयी है उसका Record रखा जा सके जिसमे की कई बार लेन देन वाले Register कुछ सालों बाद खराब होने लगते थे

और ऐसे में Data को लंबे समय तक Store करके रख पाना मुश्किल हो जाता था लेकिन आज  इंटरनेट और कंप्यूटर के दौर में जमाना बदल गया है और आज सभी प्रकार के Records को रखने के लिए  Computer और Cloud Storage का इस्तेमाल किये जाने लगा है जिसमे की Data को तब तक ले लिए Store किया जा सकता है जब तक कि उसे खुद Delete किया जाए।

और ऐसे में Financial लेन देन की जानकारी भी Accounting Software जो कि Tally के नाम से जाना जाता है उसका सबसे अधिक उपयोग किया जाता है Data को Save करने के लिए।

Tally kya hai aur kaise sikhe

यदि आप Accounting की पढ़ाई कर रहे है और आप Accounting क्षेत्र में कोई Job करना चाहते है तो आप को Tally ज़रूर सीखना चाहिए, ताकि आप किसी भी Office या Company में आसानी से Accounting से Related Job प्राप्त कर सके

तो चलिए अब हम विस्तार से Tally के बारे में जानते है कि Tally क्या है और Tally का क्या उपयोग है और इसको कहा उपयोग किया जाता है ?

Tally क्या है – What is Tally in Hindi ?

What is a Tally in Hindi
What is a Tally in Hindi

Tally आज के समय मे एक Best Accounting Software है जिसका इस्तेमाल Bills बनाने के लिए, Company के Financial Data Accounts को संभालने और Recode रखने के लिए और GST Solution के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

यह Accounting के Field में सबसे Widely Use किए जाने वाला Software है।

Tally का मतलब होता है। सभी प्रकार के खरीद, और पैसों की जानकारी और उसका Calculation रखना साथ ही सभी प्रकार के पैसों से Related चीज़ों की जानकारी कंप्यूटर और Server में Save करके रखना जैसे कि कौनसा समान कब और कितने में ख़रीदा गया है।

Tally को आज के समय मे सीखना बहुत आसान है। अगर आप कंप्यूटर चलाना जानतें हैं तो आज आप कही भी Private Institute में जाकर इसका Course Join कर सकते है और बहुत जल्द Tally के बारे के सीख सकते है।

Tally की परिभाषा – Definition of a Tally in Hindi

Learn Tally in Hindi

Tally का Full Form “Transaction Allowed in a Linear Line Yards” होता है और यह एक Accounting Solution Software है जिसमे आप अपने काम और Business से Related लेन देन की जानकारी रख सकते है। 

इस Software को बनाने की शुरुआत तब हुई जब श्याम सुंदर गोयनका को अपने काम मे चीज़ों के लेन देन की जानकारी रखने में Problem महसूस हुई और उन्होंने अपने बेटे को एक ऐसे Software को बनाने को कहा जिसमे की Accounting Calculation को जल्दी और आसानी से किया जा सके और सभी प्रकार के लेन देन Save रखा जा सके। 

Tally आज के समय मे भारतीय बाजार का मुख्य Accounting Software बन चुका है जिसका इस्तेमाल बड़े Businesses को Manage और Data को Save करने के लिए किया जाता है।

इसके साथ साथ यह GST का भी Solution Provide करता है जिससे कि Business Owners को GST Return भरने में भी अधिक परेशानी नही होती है।

इसके साथ साथ Tally आज के समय मे भारत के अलावा कई और देशों में भी Popular हो रहा है अपने बेहतरीन Interface और Simplicity के कारण।

Tally का उपयोग कहा होता है – Usage of a Tally in Hindi

Tally in Hindi - Digital Madad

  1. Tally का इस्तेमाल Restaurant का Account Maintain रखने के लिए किया जाता है।
  2. इसका इस्तेमाल Business को Maintain और सभी Multinational Company के Data को एक जगह रखने के लिए किया जाता है।
  3. GST Return में भी Tally का इस्तेमाल किया जाता है।
  4. छोटे व्यापारी भी अपने लेन देन का Recode रखने के लिए Tally का इस्तेमाल करते है।
  5. छोटे बड़े Institute में बच्चों को Accounting Related चीज़ों को सीखने में भी Tally का इस्तेमाल किया जाता है।
  6. Tally का इस्तेमाल दुकानों में भी किया जाता है।
  7. इसका इस्तेमाल Super Markets में भी किया जाता है Receipt बनाने के लिए।
  8. Tally का इस्तेमाल Payment Entry करने के लिए भी किया जाता है।
  9. Tally को उपयोग Startups में भी अपने Account को Maintain करने के लिए किया जाता है।

Tally से जुड़ी रोचक तथ्य

  • Tally का आविष्कार श्याम सुंदर ने  Business Account को Manage करने के लिए किया  था।
  • इसको सबसे पहले MS DOS के रूप में बनाया गया था।
  • Tally को Government के द्वारा भी GST के लिए बेहतरीन Software माना जाता है और Recommend किया जाता है।
  • Tally आज के समय मे सबसे बेहतरीन और भारत मे सबसे ज्यादा Businesses और LOCAL STORES के द्वारा उपयोग किये जाने वाला Software है।
  • यह GST के लिए Best Solution Provide कर सकता है।
  • कोई भी Student Tally को आसानी से 4 Months में सीख  सकता है।

Tally की विशेषताए

  1. इसमें आप अपने Business की Details को Save करके रख सकते है।
  2. GST Return आसानी से कर सकते है।
  3. छोटे बड़े सभी प्रकार के लेन देन का हिसाब रख सकते है।
  4. Multinational Company के Accounts को भी Handle कर सकते है।
  5. Tally भारत मे उपयोग किए जाने वाला सबसे अच्छा और बेहतरीन Software है।
  6. Computer के अलावा आप Data को Online भी Store करके रख सकते है।
  7. कभी भी data में आप आसानी से Update कर सकते है।
  8. Students के लिए भी यह Software काफी Friendly है और इसका Interface भी बिल्कुल Simple है।
  9. इसकी Licensing भी आपको बाकी Accounting Software’s के मुकाबले सस्ती पड़ती है।

Tally के प्रकार – Types of Tally in Hindi

Tally Software के दो प्रकार है जिसमे से दोनों ही अपने अपने क्षेत्र में काफी Popular और इस्तेमाल किये जाने वाले Software’s है जिसमे से पहले है Tally Single User (silver) और दूसरा है Tally multi User (gold)

⑴ Tally software single user(Silver)

Tally Single User Software में आपको एक, WINDOWS PC पर Tally को Use करने का License दिया जाता है जिसमे आप अपने छोटे और Local Business को आसानी से Manage कर सकते है।

इसमे आपको सभी तरह के Accounting Solution मिलते है। इसके साथ साथ GST Return FILE करने का भी Option मिलता है।

SINGLE USER Tally Software LICENSE उन Businesses के लिए Best है जो कि छोटे है और STARTUPS के लिए वही Single User Tally license Best है अपने Account को Manage करने के लिए।

⑵ Tally Software Multi-user(Gold)

Tally  Gold Software License जो कि Multi User Tally Software है। इसका इस्तेमाल Multinational Businesses को Manage और Accounting Data को Store करने के लिए किया जाता जाता है।

यह Centralized Data की तरह काम करता है जिसमे आप एक Computer पर बैठ कर बाकी सभी Company के Data को आसानी से देख सकते है।

इन दोनों ही Software License का अपना अपना महत्व है और दोनों को अलग अलग परिस्थितियों में इस्तेमाल किया जाता है तो यदि आप एक Company के या अपने Store का Account Maintain करना चाहते है तो आप Silver Tally का ही इस्तेमाल करे।

लेकिन यदि आपका काम कई जगहों पर चलता है तो उसके लिए आप Gold Tally का इस्तेमाल ही करे ताकि आप सभी Accounts को आसानी से Check और Manage कर सके।

Tally का इतिहास – History of Tally in Hindi

How to Learn Tally in Hindi - History of Tally - Digital Madad

अब तक तो आप लोगो को Tally के बारे में बहुत सी चीज़ों कस बारे में पता लग गया होगा लेकिन इसका इतिहास केवल कुछ लोगो को ही पता है तो चलिए इसकी शुरुआत कब और कैसे हुई इसके बारे के भी विस्तार से जान लेते है।

Tally का निर्माण भारत के बंगलोर Based एक Company में हुआ था और इसको सबसे पहले दूसरे नाम से जाना जाता था जो कि Peutronics था। 

Tally को 1986 में  श्याम सूंदर गोयनका  और उनके बेटे भारत गोयनका ने मिलकर बनाया था। असल मे इसके पीछे श्याम सुंदर का ही हाथ था।

वह एक Company चलाया करते थे जिसमे की वो Textile Company को कच्चा माल और Machine के Parts बेचा करते थे।

ऐसे में उनको सभी प्रकार के Calculations को करने के लिए कोई बेहतरीन Software नही था जिससे कि सभी तरह की Calculation को आसानी से किया जा सके और उसे Save रखा जा सके तो उन्होंने अपने बेटे को एक ऐसा Software बनाने को कहा जिसमे की सभी प्रकार की लेन देन की जानकारी को आसानी से रखा जा सके।

इसके बाद उनके बेटे ने First Version MS DOS के रूप में बनाया जिसमे की Basic Accounting Functions को Include किया गया था।

  1. सन 1988 में इसका नाम Peutronics से बदल कर Tally रख दिया गया था। 1999 में Peutronics Financial Accountant को बदल कर Tally Solutions रखा गया।
  2. 2001 में Tally में और भी Advance Feature Add किये गए और Tally 6.3 को Launch किया गया जिसमें Accounting के साथ Educational उद्देश्य से उपयोग किया जा सकता था और इसमे License की भी सुविधा थी।
  3. 2005 में Tally को और भी Advance किया गया और उसमे VAT के Feature को भी Add किया गया ताकि व्यापारियों के लिए TAX की Calculation करना भी आसानी हो जाये।
  4. 2009 में Tally में Company ने Business Management Solution को Release किया जिससे कि बड़े Business को भी आसान हो गया अपने Business को Manage करना।
  5. 2016 में Tally को GST SERVER AND TAX PAYERS के बीच मे Bridge के तौर पर GST शुभिधा प्रदान करने के लिए Tally को ही चुना गया और 2017 के Tally ने GST से Related सभी तरह के चीज़ों का Solution बना कर Software को Launch किया।

Tally सीखने के फायदे – Advantages of learning Tally in Hindi

  1. आपको Accounting करने और Data को सुरक्षित रखने मे आसानी रहती है।
  2. आप Data को समय के अनुसार Update भी कर सकते है।
  3. एक ही Software में कई प्रकार के data को आसानी से रखा और Manage किया जा सकता है जिससे कि काम करना आसान हो जाता है।
  4. आपको एक अच्छी Account Management की Job मिल जाती है जिसमे की आपको अच्छी Salary भी मिलती है।
  5. इसको सीखने के बाद आप चाहे तो Multinational Company में भी Apply कर सकते है।
  6. Tally के द्वारा आप GST भी Return File कर सकते है।
  7. अगर आप Business करते है और आप Tally सीखते है तो आप अपने Financial Data को आसानी से Read कर सकते है।
  8. Tally को अच्छे से सीखने के बाद आप चाहे तो दुसरो को भी Tally की Coaching दे सकते है।
  9. अगर आप FULL TIME JOB नही करना चाहते है तो आप Part time Shops का Account Maintenance का काम कर सकते है।

Tally किसे सीखना चाहिए – Who should learn Tally ?

Tally के बारे में जानकर हो सकता है कि आपको इसे सीखने की उत्सुकता हो रही होगी लेकिन हम बता दे कि Tally एक Accounting Software है जिसमे की Company के लेन देन का पूरा बहीखाता रखा जाता है। इसलिए अगर आपको Accounting के बारे में समझ नही है तो आप इस Software को Operate नही कर पाएंगे।

Tally मुख्य रूप से Accounts के Students जो कि B.COM कर रहे है या M.COM कर रहे है, के लिए एक उपयोगी Software है जिसमे की वो Company का पूरा लेन देन का Recode अपनी समझ के अनुसार अच्छे से रख सकते है और उसको Edit भी कर सकते है।

लेकिन यदि आप को Accounts के बारे में कोई जानकारी नही है तो आप इसको बिल्कुल भी नही चला पाएंगे क्योंकि आपको इसे Functions ही नही समझ आएँगे की इसके क्या करना है। और कैसे होगा।

इसीलिए हर आप Science के Student है तो इसे सीखने और उपयोग करे के लिए आपको Account की जानकारी होनी जरूरी है। वरना आप इसको बिल्कुल भी इस्तेमाल नही कर पाएंगे।

Tally कैसे सीखें – How to learn Tally in Hindi ?

अगर आप Tally के बारे में सीखना चाहते ही कि कैसे Tally पर काम किया जाता है तो इसके लिए तो सबसे पहले आपको Accounts के Basic Clear होने चाहिए ताकि आप Data को Tally में Update और Enter कर सके और उसमे Enter DATA को पढ़ सके।

Tally सीखने के लिए आप किसी Institute में Admission ले सकते है जहाँ आपको 3 महीने का Tally COURSE करवाया जाता है और आपको Tally के बारे में सिखाया जाता है कि इसके Functions कैसे काम करते है और कैसे आप Tally में New Business Data का बहीखाता रख सकते है।

अगर आप बाहर से Tally Course को नही करना चाहते है तो आज के समय के आप Online Platforms के द्वारा भी Tally Course को कर सकते है और इसके बारे में सीख सकते है। इसके अलावा आप YouTube जैसे Platform पर भी Free में Tally को सीख  सकते है।

YouTube पर ऐसे बहुत से Channels है जहाँ आपको Tally के बारे में सिखाया जाता है तो अगर आप Tally को सीखना चाहते है तो हमने कुछ बेहतरीन YouTube Channels के बारे में बताया है जहाँ पर जाकर आप Tally के बारे में Details में सिख सकते है।

Tally सीखने के लिए Best Youtube Channels

    1. GS Easytech
    2. Carrer planet computer Education
    3. Self Adhyan Guruji.
    4. Gyanyagya
    5. Tally online class
    6. TAG
    7. Tally school
    8. Super commerce
    9. Tally Tutorial

ध्यान देने योग्य बाते

  1. Tally का इस्तेमाल आप तभी करे जब आपको इसके बारे में जानकारी हो।
  2. बिना जानकारी के आप किसी भी Option में छेड़ छाड़ करे वरना हो सकता है आप अनजाने में कोई Data Delete कर दे।
  3. Tally का LICENSE खरीदते वक़्त आपको इसे कहा इस्तेमाल करना है यह ज़रूर ध्यान रखे।
  4. यदि आप Silver Tally Software का License लेते है तो आप Tally का इस्तेमाल एक WINDOW में ही कर पाएंगे।
  5. यदि आप Gold Tally Software का License लेते है तो आप अपने Multiple Business को एक साथ Manage कर सकते है।
  6. Tally Course को आप हमेशा किसी Authorized Institute से ही करे ताकि आपको बेहतरीन Knowledge मिले।
  7. आप कभी भी Crack का प्रयोग License Activate करने के लिए करे क्योंकि ऐसे में आपको नुकसान हो सकता है।
  8. हमेशा Tally Software को Official Website से ही Download करे ताकि उन में किसी प्रकार के Virus का खतरा हो।
  9. Tally Students के लिए भी बहुत user Friendly है।

FAQ – अतिमहत्वपूर्ण 7+ सवालों के जवाब 

Tally को कब बनाया गया था ?
Tally को 1988 में Introduce किया गया था जो कि MS-Dos Based Accounting Software था।
Tally का जनक किसे कहा जाता है ?
Tally को बनाने का श्रेय भारत के गोयनका जो कि श्याम सूंदर के बेटे है उनको जाता है।
Tally को कैसे सिख सकते है ?
Tally को आप Online YOUTUBE के माध्यम से आप FREE में सीख सकते है पर यदि आपको Online समझ नही आता है तो आप किसी भी Computer Institute में जाकर सीख सकते है।
क्या Gst return file करने के लिए Tally अच्छा option है ?
जी हाँ, Tally को खुद GOVT ने Officially GST को Include करने के लिए कहा था ताकि Consumers के लिए GST Return करना आसान हो सके।
Tally course को सीखने में कितना समय लगता है ?
Tally को सीखने में लगभग 4 Month का समय लगता है। और इसका Course भी 4 Months का होता है। जिसमे पहले महीने Basic और बाकी के 3 महीने Advance सिखाया जाता है और आप इसका 1 साल का Advance Course भी कर सकते है।
Tally में कितने प्रकार की Entry कर सकते है ?
1. Purchase entry
2. Payment entry
3. Contract entry

4. Sales entry
5. Receipt entry
6. Journal entry
Tally का full form क्या होता है ?
Tally का FULL FORM “Transaction Allowed in a Linear Line Yards” होता है।
Tally में voucher क्या है ?
Tally में Voucher एक Document होता है जो कि लेन देन का विवरण होता है।

Conclusion

किसी भी व्यवसाय में सबसे ज्यादा उपयोग होने वाला Software भी Tally ही है जिसमे की सभी व्यापारी छोटे हो या बड़े अपने खातों के लेन देन की सभी Details का Recode रखने के लिए इसी का इस्तेमाल करते है ताकि सभी प्रकार के Financial Details को Save करके रख सके।

Written by

तो दोस्तों, अगर आपको "Tally क्या है और कैसे सीखें" से Related और कोई भी जानकारी चाहिए तो नीचे Comment में जरुर पूछें या नीचे Click कर उपयोगी पोस्ट पढ़ना न भूलें...!

और उपयोगी पोस्ट ↙

Comments (2)

Comment...!!
  1. Rishabh Goswami

    Tally Kya Hai iski jankari mujhe bhut dino se janna tha aaj mujhe iski puri jankari mulli thanks.

Leave a Comment